सट्टा|कल्याण सट्टा मटका|Sattaking143 guessing |Sattamataka143 | Kalyan Guessing |matka guessing|satta matka | Kurla Day| guessing |matka guessing trick| hindi story 2022

February 15, 2022 By admin 0
सट्टा बाजार का दौर बहुत पुराने समय से चलता आ रहा है. सट्टा एक ऐसे ही व्यक्ति की कहानी है. एक परिवार बहुत ही सुख समृद्धि से चल रहा था. परिवार का मुखिया संतोष बहुत ही मेहनती

और बुद्धिमान व्यक्ति था. उसके परिवार में एक लड़का और २ लड़कियां थी. लड़के का नाम राजेंद्र था जिसे बचपन से ही आमिर बनने का शौक था।

सुरेश ने अपने बच्चो को अच्छी पढ़ाई लिखाई कराइ। लड़कियां दोनों अच्छे से पढ़लिखकर अच्छी नौकरी करने लगी. संतोष ने दोनों लड़कियों की शादी भी करा दी. राजेंद्र को एक बार उसके

दोस्तों ने जुए का खेल दिखाया और बोले इसमें बहुत पैसा है. इस खेल से आदमी रातो रात अमीर बन जाता है.

सट्टा

कल्याण सट्टा मटका SATTAMATAKA143

राजेंद्र वो जुए का खेल देख के वापस चला जाता है. पहले तो सोचता है ये बहुत गलत खेल है. बाद में उसे फिर से आमिर बनने का नसा हो जाता है. और सोचता है की कैसे भी उसे अमीर बनना है.

उसके पास भी बड़ी बड़ी बड़ी गाड़ियां हों, बंगले हो और ढेर सारे पैसे हों. उसे एक कंपनी में जॉब लग जाती है. जॉब से भी उसके सपने पुरे नहीं हो सकते थे.

काम में उसे मन भी नहीं लगता था. जिस कंपनी में वो जॉब करता था वही पे एक लड़की से प्यार हो गया. कुछ दिन बाद उसने परिवार की सहमति से शादी भी कर ली. सबकुछ अच्छा खासा चल

रहा था. तभी एक दिन उसका दोस्त एक लक्ज़री कार से उसके घर पे मिलने आया. राजेंद्र उसकी लाइफ स्टाइल देख बहुत प्रभावित हुआ. उसके मन में भी हो गया की कास उसके पास भी ऐसी

कार होती ढेर सारे पैसे होते.

उसके पिता बीमार चलने लगे काम भी उन्होंने छोड़ दिया पूरा बोझ राजेंद्र के ऊपर आ गया. राजेंद्र जितना भी कमाता था उसका उसमे ही पूरा नहीं हो पता था. कुछ दिन बाद ज्यादा बीमार होने

के वजह से उसके पिता की मृत्यु हो जाती है. राजेंद्र बहुत दुखी हो जाता है. राजेंद्र के ऊपर जैसे दुखों का पहाड़ टूट जाता है. उसे काम में भी दिल लगता नहीं है.

तब उसे उसके दोस्त के बात याद आती है और फिर वो वहा पे जाता है. जहा पे सट्टा और जुए होते हैं. देखते देखते वो भी सट्टा का गेम खेलने लगता है. उस दिन वो बहुत पैसे सट्टे में हर जाता है.

दुखी और डिप्रेशन में होकर घर चला जाता है. दूसरे दिन फिर वो जाता है और उस दिन वो सट्टे से बहुत पैसे जित जाता है. उसके बाद वो घर खरीदता है, लक्ज़री कार भी खरीद लेता है.

राजेंद्र अच्छी खासी लाइफ स्टाइल जीने लगता है. कुछ दिन बाद उसे फिर लालच आ जाता है की अगर वो फिर से सट्टा लगाए तो और भी पैसे जित सकता है. फिर वो दुबारा सट्टा लगाने के लिए

जाता है. उस दिन उसका जिंदगी का सबसे बुरा दिन होता है. उस दिन वो अपना घर गाड़ी सब कुछ हर जाता है उसकी जिंदगी पहले से भी बहुत ख़राब हो जाती है. वो पिता की बनायीं हुई प्रॉपर्टी

भी हार जाता है.

इन सबके वजह से उसकी पत्नी भी उससे रिस्ता तोड़ लेती है. और उससे अलग हो जाती है. जुवा हमेसा जुवा ही होता है. कभी जीतता है तो कभी हारता भी है. सट्टा का बाजार हमेसा ज्यादातर

निरसा ही हाथ लगती है.

मटका से रिलेटेड निचे दिए गए कुछ ऐसे word हैं जो इंटरनेट पे सबसे ज्यादा सर्च किये जाते हैं.

Sattaking143 guessing |Sattamataka143 | Kalyan Guessing |matka guessing|satta matka guessing |matka guessing trick 143|simple matka guessing | matka 786 guessing |alex matka guessing | kalyan matka guessing |matka |Kurla day | guessing param|satta | matka | satta matka |kalyan chart |सट्टा मटका |matka result |satta king | kalyan matka |matka satta | matka guessing |game |kalyan satta | Kurla Day | Kurla matka | satta matka result |satta matka kalyan|satta market | kalyan |सट्टा|कल्याण सट्टा मटका